जातिवाद की राजनीति कर रही है कांग्रेसः नरेंद्र मोदी

जैसे–जैसे चुनाव की तारीखें नजदीक आ रही हैं, भाजपा और कांग्रेस ने एक दूसरे पर हमले तेज कर दिये हैं. जहां एक ओर कांग्रेस सत्तारूढ़ भाजपा पर हर रोज गुजरात के विकास को लेकर हमले कर रही है वहीं भाजपा नेता कांग्रेस और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखा प्रहार कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को मोरबी के बाद प्राची में भी रैली कहा कि मेरा तो काशी से भी नाता है और प्राची से भी नाता है.

पीएम ने कहा कि गुजरात में प्रचार का ये मेरा दूसरा दिन है, मैंने सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात का दौरा किया है. मुझे लोगों में काफी जोश दिखाई दे रहा है. पीएम बोले कि आज प्रधानमंत्री भी गुजराती है तो गुजरातियों को दिल में ठंडक होती है कि चलो अपना ही आदमी दिल्ली में बैठा है. आज बीजेपी का अध्यक्ष भी गुजराती है.
 
रैली में मोदी बोले कि अगर सरदार पटेल ना होते तो सोमनाथ का मंदिर इतना भव्य नहीं बनता, लेकिन आज कुछ लोगों को सोमनाथ मंदिर याद आ रहा है कि क्या तुम्हें इतिहास की खबर है. तुम्हारे परनाना ने जो कि देश के पहले प्रधानमंत्री थे उनकी कभी सरदार पटेल से नहीं बनी. कांग्रेस ने सरदार साहेब का नर्मदा का सपना भी पूरा नहीं होने दिया. मोदी ने कहा कि जब पहले राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद सोमनाथ मंदिर का उद्घाटन करने आए थे तो भी नेहरू को उनकी यात्रा पर आपत्ति थी.

मोदी ने कहा कि हम लोग ये चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ रहे हैं, जिन्होंने 70 साल देश में सरकार चलाई वे मेरा हिसाब मांग रहे हैं. कांग्रेस सरकार ने कभी ओबीसी लोगों के लिए काम नहीं किया, आज वोट लेने के लिए जातिवाद की राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने ओबीसी लोगों को हक छीना, जब हमने हक देने की बात की तो राज्यसभा में इन्होंने हमारा विरोध किया.

रैली में पीएम ने कहा कि कांग्रेस ने नभ, थल, वायु हर जगह भ्रष्टाचार किया. कांग्रेस को देश की सेना से भी दिक्कत है, वन रैंक वन पेंशन 40 साल से अटका हुआ था हमारी सरकार ने इस मांग को पूरा किया.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोरबी में रैली को संबोधित किया. रैली में कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है कि दिल्ली में तुम्हारा आदमी बैठा है, दोनों हाथों में लड्डू है, पांचों उंगलियां घी में हैं. विकास के नाम पर वोट दीजिएगा.

पीएम मोदी ने कहा कि मोरबी से मेरा नाता काफी पुराना है, लोकसभा में जब यहां आया था तब आज से आधी भीड़ आई थी. मैं हमेशा ही मोरबी के सुख-दुख में साथ रहा हूं. बीजेपी-संघ हमेशा मोरबी के साथ रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के नेताओं के बारे में कोई ऐसा नहीं बोल सकता है. उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी मुंह पर रुमाल रखकर मोरबी आईं थीं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *