42 महीने में नहीं आए अच्छे दिन, जवाब दें मोदी: चिदंबरम

कांग्रेस और भाजपा के नेता एक दूसरे के ख़िलाफ़ कोई भी वार ख़ाली नहीं जाने दे रहे हैं. जैसे-जैसे चुनाव की तारीखें नज़दीक आ रही हैं. दोनों दलों के नेताओं के बीच तल्ख़ी बढ़ती जा रही है. इसी क्रम में कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व गृह और वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है. चिदंबरम ने कहा कि मोदी का अभियान उनके खुद के और अतीत के बारे में है. ये अभियान गुजरात और गुजराती लोगों का कथित रूप से अनादर है. क्या वह भूल गए हैं कि वह भारत के प्रधानमंत्री हैं?

उन्होंने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री बेरोजगारी, निवेश की कमी, स्थिर निर्यात और कीमतों में वृद्धि के बारे में क्यों बात नहीं करते हैं? क्योंकि उनके पास वास्तविकता का कोई जवाब नहीं है. उन्होंने कहा कि गुजरात चुनाव मोदी के बारे में नहीं है, व्यक्तिगत नहीं है. यह जो अच्छे दिन वादा किया गया है उसके बारे में है, जो कि 42 महीनों में नहीं आए हैं. उन्होंने लिखा कि पीएम मोदी भूल गए हैं कि गांधीजी एक भारतीय और गुजरात के पुत्र हैं और राष्ट्र के पिता के रूप में सम्मानित हैं. उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम का नेतृत्व करने के लिए कांग्रेस पार्टी को चुना था. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी अब सरदार वल्लभभाई पटेल का आलिंगन कर सकते हैं, लेकिन सरदार ने आरएसएस और उसकी विभाजनकारी विचारधारा को खारिज कर दिया था.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार से मिशन मोड में चुनाव प्रचार की शुरुआत की. सोमवार सुबह उन्होंने आशापुरा मंदिर में माथा टेका, यहां उन्होंने कई लोगों से मुलाकात की. PM ने भुज में विशाल जनसभा को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत गुजराती भाषा में की. उन्होंने कहा कि विपक्ष ने मेरे ऊपर इतना कीचड़ उछाला, मुझे इससे दिक्कत नहीं है. उन्होंने कहा कि जितना कीचड़ उछालोगे उतना ही कमल खिलेगा, किसानों की मेहनत को सलाम करता हूं. मैं गुजरात की रग-रग को जानता हूं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *