झारखंड में ब्यूरोक्रेसी पूरी तरह फेलः राजद

रघुवर सरकार को विपक्ष ने राजधानी रांची में प्रशासन द्वारा ट्रैफिक प्लान में हुए बदलाव पर आड़े हाथों लिया है। प्रदेश राजद प्रवक्ता डॉ मनोज कुमार ने कहा है कि मुख्यमंत्री रघुवर दास के हिटलरशाही फरमान के बावजूद ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार नहीं होना अत्यंत दुखद और चिन्ताजनक बात है। बगैर सोचे समझे हिटलर शाही फरमान से आम जनता की परेशानियां बढ़ गई हैं। मुख्यमंत्री सहित राजधानी के तमाम बड़े पदाधिकारी यातायात  व्यवस्था सुधारने में लगे हैं लेकिन स्थिति  यथावत बनी हुई है।

सरकार के फैसले से छोटे- छोटे बच्चे- बच्चियों को स्कूल आने जाने में काफी असुविधा हो रही है। इससे अभिभावकों को भी परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि सरकार के पास न विजन है, न ही प्लान। बगैर सोचे समझे हड़बड़ी में निर्णय लिए जाते हैं। जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ता है।

सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि इस संबंध में सरकार के दो मंत्रियों ने मुख्यमंत्री के निर्णय का विरोध किया है। इन मंत्रियों के बयान पर मुख्यमंत्री को चुप्पी तोड़ना चाहिए और स्पष्ट जबाब देना चाहिए। डॉ मनोज ने कहा कि राज्य की अफ़सरशाही फेल हो गई है। ये अधिकारी मुख्यमंत्री की एक बात नहीं सुन रहे हैं जिस कारण स्वयं कभी अपने गृह जिला  में सफाई करते देखे  जा रहे हैं तो कभी हेलमेट चेक कर रहे हैं और राजधानी में स्वयं ट्रैफिक व्यवस्था संभाल रहे हैं। रघुवर दास की नाकामियां आम जनता समझ चुकी है। आमजन ये बात अच्छी तरह समझ गया है कि राज्य में ब्यूरोक्रेसी पूरी तरह फेल हो गई है और सीएम के आदेश कोई भी मानने को तैयार नहीं है। जिसके कारण मुख्यमंत्री इतनी मशक्कत करते दिख रहे हैं। 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *