सोशल मीडिया से जमीनी पकड़ मजबूत बनाएगी BJP !

मिशन 2019 की तैयारी में जुटी बीजेपी के लिए उत्तर प्रदेश में अपनी पकड़ को बनाए रखना बड़ी चुनौती है। खासकर तब जब विपक्ष एकजुट हो रहा है। हाल में हुए उपचुनाव में इसकी एक बानगी दिखाई दे चुकी है। बीजेपी का शीर्ष नेतृत्व ये भलिभांति जानता है कि इसके लिए बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करना होगा। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए पार्टी ने सोशल मीडिया को अपना अहम हथियार बनाएगी।

बताया जा रहा है कि प्रदेश में 74 सीटों को जीतने और 51 फीसदी तक मत प्रतिशत बढ़ाने के लक्ष्य को लेकर चल रही बीजेपी अपने गठित सभी एक लाख 30 हजार बूथों में हर एक पर दो साइबर एक्सपर्ट बनाने जा रही है। अगले दो महीनों में सभी बूथों पर पार्टी के दो लाख 60 हजार साइबर एक्सपर्ट खड़े हो जाएंगे।

बीजेपी प्रदेश में एक लाख 47 हजार बूथों में अब तक एक लाख 30 हजार बूथ कमेटियां गठित कर चुकी है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि धार्मिक व जातीय समीकरणों के कारण सभी एक लाख 47 हजार बूथों पर कमेटियां बनाना संभव नहीं है। पार्टी की इन एक लाख 30 हजार बूथ कमेटियों में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महामंत्री, मंत्री समेत 21 सदस्य हैं। इन बूथ कमेटियों में से दो युवा सदस्य ऐसे तय किए जाएंगे जो इन्टरनेट और स्मार्ट फोन से लैस होंगे। उन्हें आईटी टेक्नोलॉजी की जानकारी भी होगी। इन्हें संयोजक और सह संयोजक का पद नाम दिया जाएगा।

पार्टी के पूरे प्रदेश में 1471 मंडल हैं। इन दोनों बूथों पर पदाधिकारयों को मंडल स्तर पर पार्टी के लिए सोशल मीडिया के उपयोग करने के बारे में प्रशिक्षित किया जाएगा। बूथ कमेटियों से सोशल मीडिया के इन सदस्यों को प्रशिक्षण में यह बताया जाएगा कि कैसे उन्हें केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं की जानकारी अपनी बूथ कमेटयों तक ही नहीं, बल्कि अपने बूथ से संबंधित गांव के लोगों तक पहुंचानी है। इसके अलावा योजनाओं का लाभ वंचितों तक पहुंचाने के लिए पहुंचाने के लिए शासन-प्रशासन से तालमेल बिठाने के लिए भी ये पार्टी के साइबर योद्धा जिम्मेदार होंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *