BJP को याद आने लगे ट्राइबल वोटर

जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है राजनेताओं को जनता की तकलीफें-चिंता सताने लगी है। ऐसा इसलिए है क्योंकि वे जानते हैं कि बहुत जल्द अब उनके पास वोट मांगने जाना है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए मंगलवार को बीजेपी की बैठक हुई। इस बैठक में जिस मुद्दे पर सबसे ज्यादा चर्चा हुई वह था ट्राइबल वोटर।

पिछले कई महीनों से स्थानीय नीति और नियोजन नीति को लेकर हो रहे विवाद ने बीजेपी के अंदर इस चिंता को बढ़ा दिया है कि ट्राइबल वोटर्स किस ओर अपना रुख करेंगे। बीजेपी के एसटी मोर्चा के अध्यक्ष और पार्टी विधायक राम कुमार पाहन ने मंगलवार को कहा कि मार्च की शुरुआत में ही पार्टी की तरफ से ‘चलो पंचायत की ओर’ कार्यक्रम शुरू किया जाएगा। करीब दो माह तक चलने वाले इस कार्यक्रम के दौरान पंचायत से लेकर बूथ स्तर तक ट्राइबल वोटर्स को भाजपा से जोड़ने का भरपूर प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मौजूदा समीकरण के अनुसार 2019 में होने वाले विस चुनाव के मद्देनजर राज्य में 27 प्रतिशत एसटी वोटर्स में से 60 से 70 प्रतिशत वोट पार्टी को हासिल करना होगा। अगर ऐसा नहीं हुआ तो दोबारा सत्ता में आना संभव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि इस मकसद से यह कार्यक्रम शुरू किया गया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *