नहीं मिले खट्टर, बीजेपी नेता अम्‍मू ने दिया इस्तीफा

दीपिका पादुकोण या संजय लीला भंसाली का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपये का ईनाम देने की घोषणा कर विवादों में आए हरियाणा बीजेपी के चीफ मीडिया कॉर्डिनेटर सूरजपाल अम्मू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. अम्मू ने यह कदम मंगलवार को मुख्यमंत्री द्वारा मिलने से मना करने के बाद उठाया है. मंगलवार को सूरजपाल अम्मू मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात के लिए उनके आवास पर गए थे उनके साथ करणी सेना के लोग भी थे. हालांकि उनकी यह मुलाकात तयशुदा थी. बावजूद इसके खट्टर ने उनसे मुलाकात नहीं की. अम्मू ने इसे अपना अपमान बताया था. उन्‍होंने यहां तक कह डाला 'अगर आप हमें पार्टी से निकालना चाहते हैं तो निकाल दें, लेकिन हमें अपमानित न करें'.

अम्‍मू ने बताया कि मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राजपूत करणी सेना के सदस्‍यों को मिलने का वक्‍त दिया था, लेकिन वह बिना मिले ही चले गए. वह उन लोगों से क्यों नहीं मिले, जो राजस्थान से उनसे मिलने आए थे? अगर आप हमें पार्टी से निकालना चाहते हैं तो भले निकाल दीजिए, लेकिन इस तरह से हमारा अपमान न करें.

सूरजपाल अम्मू 'पद्मावती' फिल्म के विवाद पर उस समय चर्चा में आए जब उन्होंने फिल्म में पद्मावती की भूमिका निभाने वाली दीपिका पादुकोण का सिर कलम करने वाले को 10 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी. हालांकि पार्टी ने इस बयान पर अम्मू को नोटिस भी जारी किया था.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *