न्याय यात्रा को मिल रहे अप्रत्याशित जनसमर्थन से घबरा गया है सत्तापक्षः राजद

राजद ने बीजेपी और जदयू नेताओं पर राजद की बढ़ती लोकप्रियता से घबराकर अनर्गल बयान देने का आरोप लगाया है। राजद नेताओं का कहना है कि जिस प्रकार राजद सूबे में जनता के हित में आवाज उठा रही है उससे सत्ताधारी दल के नेताओं की बचैनी बढ़ गई है। उन्हें अपनी सियासी जमीन खिसकती हुई दिखाई दे रही है।

राजद के प्रदेश प्रवक्ता चितरंजन ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के ‘‘संविधान बचाओ न्याय यात्रा’’ को मिल रहे अप्रत्याशित और अभूतपूर्व जन-समर्थन के कारण जदयू और भाजपा के नेता ‘‘मेन्टल डायरिया’’ के शिकार हो गये हैं। इसलिए उनके द्वारा तथ्यहीन और अनर्गल बयानबाजी की जा रही है।

अपनी विद्वता का ढोल पीटने वाले जदयू और भाजपा नेताओं को कोई बयान देने के पहले अपने केन्द्र और राज्य सरकारों के वेबसाईट और रिकार्डों को ठीक से पढ़ और समझ लेना चाहिए। राजद नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री के जापान यात्रा पर डींगें हांकने वाले जदयू नेता को यह बताना चाहिए कि बिहार का करोड़ों खर्च कर 2013 के 17- 19 फरवरी को हुए ‘ग्लोबल समिट और चेंजिंग बिहार’ और उसके पूर्व हुए ‘ग्लोबल मीट फॉर रिसर्जेंट बिहार’ के बाद बिहार में कितने विदेशी निवेश हुए।

उन्होंने कहा कि जहां तक कानून व्यवस्था का सवाल है तो राजद शासनकाल में बिहार बाईसवें स्थान पर था। जबकि वर्तमान में बिहार का स्थान हत्या में दूसरा और अपहरण के मामले में तीसरे पायदान पर आ गया है। महागठबंधन की सरकार के समय कानून व्यवस्था की स्थिति में काफी सुधार हुआ था पर एनडीए की सरकार बनते ही अपराधी बेलगाम हो गए।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *