बिहार : ग्रामीणों ने विधायक का रास्ता रोका,10 सालों में विकास कार्य नहीं करने का लगाया आरोप

विधानसभा चुनाव करीब आते ही नेता अपने क्षेत्र में घूमने लगे हैं। इस दौरान उन्हें जनता के विरोध का सामना भी करना पड़ रहा है। एक ऐसी ही घटना शिवहर में जदयू विधायक मोहम्मद शरफुद्दीन के साथ हुई। गांव के लोगों ने विधायक का रास्ता रोक लिया और पिछले 10 साल में काम न करने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया।

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि विरोध प्रदर्शन के समय विधायक शरफुद्दीन गाड़ी से उतरे और लोगों को गालियां दी। इसके बाद विरोध प्रदर्शन कर रहे लोग आक्रोशित हो गए और धक्का-मुक्की व पथराव कर दिया। पथराव में विधायक की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। घटना पिपराही थानाक्षेत्र के मेसौढ़ा गांव की है।विधायक शरफुद्दीन रात में ही पिपराही थाने पहुंचे और खुद पर जानलेवा हमला होने का केस दर्ज कराया। उन्होंने अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी मोहम्मद वामिक समेत 20-25 लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज कराया। विधायक ने आरोप लगाया कि उन पर जानलेवा हमला किया गया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी मो.वामिक सहित आधा दर्जन आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

दूसरी ओर, पुलिस द्वारा की गई गिरफ्तारी और विधायक द्वारा गलत प्राथमिकी कराने के विरोध में ग्रामीणों ने शनिवार सुबह से मेसौढ़ा गांव में सड़क पर आगजनी कर जाम कर रखा है। ग्रामीणों की मांग है कि पुलिस गिरफ्तार किए गए लोगों को छोड़ दे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *