सांसद निशिकांत दुबे पर भारी पड़े विधायक अमित मंडल

विधायक अमित मंडल प्रकरण को CM ने गम्भीरता से लिया, गृह सचिव करेंगे मामले की जांच
-दिवाकर तिवारी
सांसद निशिकांत दुबे और गोड्डा विधायक अमित मंडल के झगड़े में विधायक का पलड़ा भारी दिख रहा है. मुख्यमंत्री ने विधायक की शिकायत पर गोड्डा SP को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है. यह सांसद और उनके समर्थकों को स्पष्ट संकेत है कि राज्य सरकार विधायक के साथ है , आगे झगड़े में क्या निकल कर आएगा सबको इसकी प्रतीक्षा है. सांसद निशिकांत दुबे संथाल परगना क्षेत्र में और भाजपा की केंद्रीय राजनीति में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं, अपने दबदबे की वजह से वह अक्सर सुर्ख़ियों में भी रहते हैं.

गोड्डा विधायक अमित मंडल के साथ हुए प्रकरण को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गम्भीरता से लिया है. उन्होंने मुख्य सचिव राजबाला वर्मा को निदेश दिया है कि गृह सचिव के द्वारा गोड्डा विधायक अमित मंडल प्रकरण की जांच कराएं. अग्रतर कार्रवाई के लिए 15 दिनों के भीतर इससे संबंधित जांच प्रतिवेदन सरकार को सौंपे. इसके साथ गोड्डा के वर्तमान आरक्षी अधीक्षक को तत्काल स्थानांतरित करते हुए मुख्यालय में योगदान करने का कहा है. पूर्णकालिक आरक्षी अधीक्षक की नियुक्ति होने तक दुमका के आरक्षी अधीक्षक अभी गोड्डा जिले के अतिरिक्त प्रभार में रहेंगे.

विधायक अमित मंडल ने इससे पहले जिला पुलिस कप्तान पर आरोप लगाया था. उन्होंने साफ साफ आरोप लगाया था कि गोड्डा जिले में बालू का अवैध उत्खनन जारी है. कई मर्डर केस का उल्लेख करते हुए उन्होंने संवाददाताओं से कहा भी कि पुलिस की भूमिका संदेहास्पद रही है. विधायक के आरोपों पर राज्य सरकार ने SP के खिलाफ कार्रवाई की.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *