मोदी सरकार में हुए 54,317 करोड़ रुपये के घोटालेः कांग्रेस

पीएनबी घोटाले को लेकर कांग्रेस पीएम नरेंद्रे मोदी और बीजेपी को घेरने में पूरी तरह जुटी हुई है, कहा जा रहा है कि कांग्रेस आगामी चुनावों को देखते हुए इस मुद्दे को गरमाए हुए रखना चाहती है। कांग्रेस नेता पीएम मोदी को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर निशाने पर लेकर बीजेपी को बैकफुट पर लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसलिए हर रोज कांग्रेस का कोई न कोई नेता नए-नए तथ्यों के साथ इस मुद्दे पर बयान देता है। इसी कड़ी में 12,600 करोड़ के पीएनबी फ्रॉड के बाद अब कांग्रेस ने देश में 54,317 करोड़ रुपये के घोटाले की बात कही है। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा है कि आखिर इतने बड़े घोटाले पर प्रधानमंत्री मोदी कब तक बोलेंगे, उनका यूं चुप्पी साधे रहना देशहित में ठीक नहीं है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कांफ्रेंस के जरिए मोदी सरकार की चौकीदारी पर सवाल उठाए। बोले कि मोदी सरकार में घोटालेबाजों का मूल मंत्र है-लूटो, भागो और उड़ जाओ। यही वजह है कि देश में वित्तीय अनियमितता और धोखाधड़ी की घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। बैंकों में जमा गाढ़ी कमाई डूबने से आम आदमी बुरी तरह परेशान है। सुरजेवाला ने कहा कि हमारी मांग है कि प्रधानमंत्री मोदी नीरव यानी खामोश रहने की जगह देश में हो रही इस लूट पर कुछ बोलने का साहस दिखाएं।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि देश में 54 हजार करोड़ से ज्यादा के हुए घोटाले का पता आरटीआई से पता चला है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी सरकार में सिर्फ मुंबई में ही 19.317 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ। आरटीआई से मिले आंकड़े के मुताबिक 2015 में 5560.66 करोड़, 4273.87 करोड़ और 2017 में 9838 करोड़ की बैंकों में फ्राड हुआ। सुरजेवाल बोले कि इससे भी हैरानी की बात है कि घोटालों में शामिल 184 अभियुक्त जहां कार्रवाई से बचे, वहीं रिकवरी मात्र ढाई करोड़ की हुई। इससे लगता है कि केंद्र की मोदी और फडणवीस सरकार ने घोटालेबाजों को भागने की छूट दे रखी है। उन्होंने कहा कि अब देश को यह बताने का समय है कि अब तक कितने घोटालेबाज देश छोड़कर भाग चुके हैं।

उधर, कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा ने पलटवार किया है। कहा है कि बैकिंग सेक्टर में सभी घोटाले यूपीए सरकार में हुए। जानबूझकर इसका ठीकरा बीजेपी सरकार के सिर पर फोड़ने की कांग्रेसी नेता कोशिश कर रहे हैं। भाजपा के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि कांग्रेस के अधिकतर वरिष्ठ नेता या तो जेल में हैं या फिर जमानत पर बाहर हैं, ऐसे में वे जनता को गुमराह नहीं कर सकते। राव ने कहा कि जिस ढंग से आरोप लगाए जा रहे हैं, उससे पता चलता है कि इन घोटालों में कांग्रेस की कितनी संलिप्तता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *