संजय जायसवाल बिहार भाजपा के नए मुखिया, सुशील मोदी क्या कमजोर होंगे !

भाजपा नेतृत्व ने सांसद संजय जायसवाल को बिहार की कमान देकर एक बार फिर यह जता दिया है कि भाजपा अपने आधार वैश्य वोट बैंक को कोई गलत संकेत नहीं देना चाहती. शनिवार को बिहार और राजस्थान में नए प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा की गयी. केंद्र में नित्यानंद राय के मंत्री बनने के बाद से ही बिहार को नया प्रदेश अध्यक्ष मिलने की बात सामने आ रही थी और तरह तरह के नाम इस पद के लिए सामने आ रहे थे. अब जाकर सारी चर्चाओं को विराम देते हुए बिहार भाजपा की कमान ऐसे वक़्त में बेतिया के सांसद को सौंपी गयी है जब नीतीश की जदयू और भाजपा में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. नीतीश कुमार झारखंड में सभी सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं और उन्होंने रांची में पिछड़ों के आरक्षण की बात करके भाजपा के सबसे कमजोर नस पर सीधा वार भी किया.    

भाजपा कार्यालय की ओर से शनिवार को जारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गयी है। नित्यानंद राय के पीएम मोदी की कैबिनेट में शामिल होने के बाद बिहार में प्रदेश अध्यक्ष का पद खाली था। संजय जायसवाल के पिता पहले भाजपा सांसद थे. उनके निधन के बाद ये सक्रिय राजनीति में आये और तीन बार जीत के बाद संजय जायसवाल भाजपा के अनुभवी नेताओं में से एक माने जाते हैं। बिहार में अगले साल विधानसभा का चुनाव भी होना है और एनडीए की सहयोगी जदयू से भाजपा के रिश्ते में तनातनी भी चल रही है। ऐसे  संजय जायसवाल का बिहार की कमान को संभालना एक बड़ी चुनौती होगी। 

जो लोग यह मानकर चल रहे थे कि शायद बिहार भाजपा की कमान किसी सवर्ण को मिलेगी, उन्हें मायूसी हुई होगी. ऐसे में कुछ भाजपा नेताओं का मानना है कि शायद संजय जायसवाल के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद सुशील मोदी का पर कतरा जाये. जदयू भाजपा विवाद के बीच सुशिल मोदी के उस ट्विट की काफी आलोचना हुई, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगला विधानसभा चुनाव भी नीतीश के नेतृत्व में ही लड़ा जायेगा. इसपर सीपी ठाकुर समेत कई नेताओं की तीखी प्रतिक्रिया सामने आयी थी. ऐसे में अब जब बिहार भाजपा को अपना नया प्रदेश अध्यक्ष मिल गया है और पश्चिमी चंपारण से पार्टी के सांसद संजय जायसवाल को बिहार भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। तो कई सुशील मोदी विरोधी लॉबी के नेता यह मानकर खुश हो रहे हैं कि अब सुशील मोदी कमजोर होंगे. हालांकि जब नित्यानंद राय प्रदेश अध्यक्ष बने थे तब भी ऐसा ही अनुमान लगाया जा रहा था.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *