विपक्ष EVM-VVPAT में टैंपरिंग के मुद्दे को ले सुप्रीम कोर्ट जाएगी

चुनाव में EVM) और VVPAT वोटर्स की विश्वसीनता फिर से सवालों के घेरे में हैं. EVM और VVPAT में टैंपरिंग के मुद्दे पर रविवार को विपक्षी दलों ने बैठक की. इसमें सभी दलों ने इस मुद्दे को सुप्रीम कोर्ट ले जाने का फैसला लिया है.

ईवीएम को लेकर विपक्षी दलों की बैठक के बाद कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि अब विपक्ष EVM में छेड़छाड़ और खराबी के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस इस मामले में जरूरी कानूनी कदम उठाएगी और विपक्ष के बाकी दलों के नेता जमीनी स्तर पर इस मुद्दे को उठाएंगे.’

अभिषेक मनु सिंघवी ने आगे कहा, ‘चुनाव आयोग ने कहा है कि अगर सभी VVPAT स्लिप्स का ईवीएम से मिलान किया जाता है, तो नतीजे आने में पांच दिन लेट हो जाएगा. हमने निर्वाचन आयोग (ईसी) से गुजारिश की है कि वो अपनी टीम की सदस्य बढ़ाए, ताकि गिनती और मिलान का काम वक्त पर पूरा हो सके.’ सिंघवी ने ये भी कहा कि आयोग को चुनाव प्रक्रिया में काफी बदलाव की जरूरत है.

विपक्ष पार्टियों की प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘पहले चरण के चुनाव के बाद सवाल उठाए गए थे, हमें नहीं लगता कि चुनाव आयोग इसपर पर्याप्त ध्यान दे रहा है. अगर आप X पार्टी को वोट देते हैं तो वोट Y पार्टी को जाता है. वीवीपैट भी 7 सेंकंड की जगह केवल 3 सेकंड दिखता है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *