लालू के घर में लगी आग बुझाने से भी नही बुझेगी!

पटना) लालू यादव के द्वारा लिखी गई पुस्तक ‘गोपालगंज रायसीना’ को लेकर सियासत थमने का नाम नही ले रही है। इस पुस्तक को लेकर जदयू और राजद के नेताओं के बीच काफी गहमागहमी है। जदयू प्रवक्ता संजय कुमार पुस्तक को लेकर तंज कसा है। उन्होंने कहा है कि पुस्तक का नाम लेखक के द्वारा गलत रखा गया है। इसका नाम ‘गोपालगंज रायसीना’ की जगह ‘गोपालगंज से होटवार भाया रायसीना’ होना चाहिए था।

उन्होंने आगे कहा कि लालू परिवार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में संलिप्त है। और ऐसे में लालू यादव के ऊपर किताब लिखना सही नहीं है। भ्रष्टाचार के आरोप में वे अभी जेल में है। उनके सुपुत्र तेजस्वी यादव 29 साल के उम्र में भ्रष्टाचार के आरोप में बेल पर हैं। उनकी पत्नी और बेटी मीसा भारती बेल पर है।

वहीं दूसरी ओर संजय कुमार ने बंदर के सवाल पर कहा कि 15 साल के राज्य में लोग क्या बोलते थे। यह तो सब को पता है। मंकी की बात छोड़ उन्हें अपनी घर की चिंता करनी चाहिए। उनके घर में आग लगी है। महाभारत छिड़ा हुआ है। दमकल से भी नही बुझाया जा सकता है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के ठीक पहले तेजप्रताप यादव के द्वारा उठाए गए महागठबंधन विरोधी कदम से विरोधियों को तंज कसने का मौका मिल गया है। ऐसे में जदयू और बीजेपी के प्रवक्ता लालू परिवार को बैकफुट पर लाने में कोई कोर कसर नही छोड़ना चाहते हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *