रांची में मजदूर की पत्थर से कूचकर बेरहमी से हत्या, रात भर पड़ा रहा शव

रांची के खरसीदाग ओपी क्षेत्र के सोढा गांव के रहनेवाले प्रेम कच्छप की पत्थर से सिर कूचकर बेरहमी से हत्या कर दी गयी. मजदूर का शव गांव के समीप ही झाड़ियों के पास मिला है. जानकारी के अनुसार सोढा गांव का प्रेम कच्छप (40) सोमवार को घर से सब्जी लेने के लिए दस माइल बाजार गया था. बाजार से सब्जी लेकर वह देर रात तक घर जब नहीं पहुंचा तो परिजनों ने अपने स्तर से खोजबीन शुरू की. इसकी सूचना खरसीदाग ओपी को भी दी।

शुक्रवार की शाम 5:00 बजे के लगभग सोढा जाने वाले रास्ते के किनारे झाड़ियों में एक शव मिला. गांव वालों ने वहां जाकर देखा तो शव प्रेम कच्छप का था. प्रेम की पत्थर से कूचकर हत्या कर शव को छिपाने के ख्याल से झाड़ियों में फेंक दिया गया था. घटना की सूचना गांव वालों को मिली. गांव वालों ने खरसीदाग पुलिस को मामले की जानकारी दी. रात 8:30 बजे के लगभग पुलिस मौके पर पहुंची और शव को उठाकर ले गई. मृतक प्रेम हरदाग स्थित एक फैक्ट्री में मजदूरी करता था. परिवार में पत्नी सुनीता कच्छप, तीन बेटी और एक बेटा प्रभु कच्छप है.

घटना के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. ग्रामीणों ने बताया कि पूर्व में इस क्षेत्र का थाना तुपुदाना ओपी था जिसे बाद में खरसीदाग ओपी में कर दिया गया. खरसीदाग पुलिस दिन में आती है और पत्थर बालू लदे वाहनों एवं पशु तस्करों से वसूली करके चली जाती है. इस क्षेत्र में किसी तरह के अपराध की घटना होने पर सूचना देने के बाद भी पुलिस काफी देर से पहुंचती है.

पूरी रात शव पड़ा रहा जंगल में।

शव मिलने की सूचना 5:00 बजे ग्रामीणों को मिली. ग्रामीणों ने 6:00 बजे खरसीदाग पुलिस को घटना की जानकारी दी. सूचना पाकर पुलिस 9:00 बजे के लगभग रात में खरसीदाग ओपी की पुलिस और तुपुदाना पुलिस मौके पर पहुंची. लेकिन पहुंचने के बाद भी शव को नहीं उठाया. गांव वाले भी देर रात तक शव के पास नहीं रहे और परिजनों के साथ अपने अपने घर चले गए. सामान्य तौर पर पुलिस लावारिस शव को भी उठाकर थाना ले आती है. लेकिन पहचान होने के बाद भी पुलिस शव को थाना नहीं ले गई. इससे ग्रामीण आक्रोशित हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *