यूपी में सपा बसपा से अपमान का कांग्रेसी बदला

अमेठी और रायबरेली के बदले मुलायम, मायावती, अजीत और डिंपल के लिए कांग्रेस ने भी छोड़ी सीटें

अब जाकर कांग्रेस ने भी सपा- बसपा गठबंधन से यूपी में अपने सियासी अपमान का बदला ले लिया है. सपा बसपा गठबंधन ने कांग्रेस के लिए प्रदेश में राहुल गांधी और सोनिया गांधी के लिए अमेठी और रायबरेली की सीट छोड़ी थी. अब कांग्रेस ने भी सपा बसपा को सियासी रेतुर्न गिफ्ट देते हुए 7 सीटें छोड़ दी हैं. कांग्रेस पार्टी ने मैनपुरी में मुलायम सिंह यादव, कन्नौज में डिंपल यादव, बागपत में जयंत चौधरी और मुज़फ़्फ़रनगर में चौधरी अजीत सिंह के ख़िलाफ़ चुनाव न लड़ने का फैसला किया है. इसके अलावा गोंडा और पीलीभीत सीट से भी कांग्रेस का कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं होगा. ये जानकारी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने लखनऊ में पार्टी नेताओं को दी.

लोकसभा चुनाव का बिगुल बच चुका है, एक के बाद एक पार्टियां उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर रही हैं. यूपी फतह करने का सपना लिए राजनीतिक पार्टियों ने एक से एक दिग्गजों को मैदान में उतारा है. इसी कड़ी में कांग्रेस ने अब तक यूपी के लिए 27 उम्मीदवारों का एलान किया है. कांग्रेस ने प्रदेश की सभी 80 सीटों पर अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव प्रियंका गांधी लगातार पार्टी को मजबूती देने में लगी हुई हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *