मुस्लिम हमें वोट नहीं देते, फिर भी क्या कभी उन्हें परेशान किया : रविशंकर प्रसाद

केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि हमें पता कि मुसलमान हमें वोट नहीं देते है लेकिन फिर भी बीजेपी किसी तरह भी उनको सताती नहीं है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक रविशंकर प्रसाद ने एक कार्यक्रम में बहुसांस्कृितिक समाज के संबंध में किए गए सवाल का जवाब देते हुए कहा…

‘भारत की विविधता का हम लोग सम्मान करते हैं. पिछले कुछ दिनों से बीजेपी के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है बावजूद इसके हमें जनता का आशीर्वाद मिला और जनता ने हमारा साथ दिया है. देश के 15 राज्यों में हमारी सरकार है, 13 राज्यों में हमारी पार्टी के मुख्यमंत्री हैं और हम लोग देश की सत्ता भी संभाल रहे हैं. उन्होंने कहा कि क्या हमारी सरकार ने अब तक किसी भी मुस्लिम को परेशान किया? क्या हमने किसी मुसलमान से उसकी नौकरी छीनी है? उन्होंने कहा ‘मुझे पता है कि हमें मुसलमानों का वोट नहीं मिलता, लेकिन क्या हमारी सरकार उन्हें उचित सुविधा नहीं दे रही?

अपनी बात को सही साबित करने के लिए प्रसाद ने पद्म श्री सम्मान पाए हुए अनवर उल हक का जिक्र भी किया. प्रसाद ने कहा,
‘एक उदाहरण देकर मैं बताना चाहूंगा कि हम लोग कैसे काम करते हैं. पहले बेहद गलत तरीके से ये पुरस्कार दिए जाते थे. लुटियन दिल्ली के दोस्तों को इससे सबसे ज्यादा फायदा होता था. लेकिन पीएम ने इसको बदलने का विचार किया. एक अनवर उल हक नाम का शख्स है. वह चाय के बागान में मजदूरी करता है. सही इलाज ना मिलने की वजह से उनकी मां चल बसी, तब से उन्होंने अपनी मोटरसाइकिल को एंबुलेंस बना लिया, वह अबतक 2000 से ज्यादा की जिंदगी बचा चुके हैं.’
प्रसाद ने आगे बताया कि पीएमओ की तरफ से एक दिन अनवर को फोन गया. फिर पीएम ने अनवर से कहा कि वह उनको पद्म श्री पुरस्कार देना चाहते हैं. प्रसाद ने बताया कि पीएम मोदी ने अनवर के अच्छे काम की प्रशंसा भी की थी. इसके बाद प्रसाद ने कहा, ‘हम लोगों ने अनवर का धर्म नहीं देखा और ना ही पूछा कि उन्होंने हमें वोट किया था या फिर नहीं.’

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *