मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार इस्तीफा दें : हेमंत

-राज्यसभा चुनाव में धांधली साबित : हेमंत
-अनुराग गुप्ता और अजय कुमार को तत्काल हटाओ : हेमंत

नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने राज्य सभा चुनाव में की गई गड़बड़ी पर रघुवर को निशाने पर लिया. मीडिया को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने मांग की है कि चुनाव आयोग के द्वारा राज्य सरकार को जो आदेश मिला है, उससे साफ साबित होता है कि राज्यसभा चुनाव में सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया गया है. इसमें स्पेशल ब्रांच के मुखिया के तौर पर अनुराग गुप्ता और मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अजय कुमार का संलिप्त है. आयोग के निर्देश पर इन पर कार्रवाई होगी.

नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने मांग की है कि इन दोनों को पद से अविलंब हटाया जाए. वही राज्यसभा चुनाव में मुख्यमंत्री की संलिप्तता भी है और राज्यसभा चुनाव जीत कर गए महेश पोद्दार की भी, ये दोनों भी इस्तीफा दे और ट्रायल फेस करें. भारतीय जनता पार्टी में ऐसा उदाहरण कई बार दिया है कि आरोप लगने पर इस्तीफा दे दिया जाता था. लालकृष्ण आडवाणी ने एक बार ऐसा किया. पिछले 3 वर्षों से राज्य के वरीय पुलिस पदाधिकारी भाजपा के लठैत के रूप में सरकार का काम कर रहे हैं. रघुवर सरकार सरकारी गुंडे पाल निर्दोषों को झूठे मुकदमे में फंसा रही है. हेमंत ने कहा कि इन सारे विषयों को लेकर गृह मंत्रालय जाऊंगा और गृह मंत्री से मुलाकात कर आवेदन दूंगा. आयोग का पत्र 13 जून को ही आया है. एक सप्ताह में क्या कार्रवाई हुई, इसका जवाब भी मुख्य सचिव को देना होगा. सरकारी पदाधिकारी अपने पदों का दुरुपयोग कर रहे हैं, आयोग ने साफ लिखा है. चुनाव आयोग के पत्र में भ्रष्टाचार की भी पुष्टि हुई है.

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर हेमंत सोरेन ने कहा कि राजनाथ सिंह जी का फोन आया था. उन्होंने आग्रह किया है लेकिन बीजेपी एक ऐसी पार्टी है जो कहती है, वह करती नहीं जो दिखती है. उसके विपरीत परिणाम आते हैं. राजनाथ जी ने कहा कि सर्वसम्मति बननी चाहिए. हमने कहा कि हम लोग चुनाव तो जीवन भर फेस करते हैं. गरिमा को देखकर स्वाभाविक रूप से बातें होनी चाहिए आज दिल्ली निकल रहा हूं. कल यूपीए की बैठक हैं उसमे फैसला होग.

हेमंत सोरेन ने बीजेपी सरकार द्वारा योग दिवस पर लाखों करोड़ों खर्च किए जाने पर भी सवाल खड़ा किया और कहा कि इनके घर से नहीं जा रहा है. इसलिए इतना खर्च कर रहे हैं. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया पर उन्होंने कब्जा जमा कर रखा है. देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है. व्यापारी को सोने की थाली में खाना खिलाते हैं और किसान राज्य में मर रहे हैं. योग दिवस के अवसर पर हेमंत सोरेन को मोराबादी में हुए कार्यक्रम का न्योता नहीं दिया जाने पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जानते हैं कि जिसकी सेहत ठीक होती है है, उसे योग की कोई आवश्यकता नहीं, इसलिए उन्होंने मुझे निमंत्रण नहीं दिया.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *