मानव तस्कर पन्नालाल महतो खूंटी से गिरफ्तार

मानव तस्‍करी के लिए कुख्‍यात झारखंड में शुक्रवार को पुलिस के लिए एक राहत भरी खबर मिली। कुख्यात मानव तस्कर पन्ना लाल महतो को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता पाई है। उसे खूंटी में पुलिस ने धर दबोचा। जानकारी के अनुसार राज्य के सबसे बड़े मानव तस्कर पन्नालाल महतो को खूंटी पुलिस ने गुरुवार देर रात रात खूंटी टोला से गिरफ्तार किया है। पन्नालाल मूल रूप से मुरह थाना क्षेत्र के गनालोया गांव का रहने वाला है, जिसके संबंध कई नामचीन लोगों से भी हैं।

थाना प्रभारी जयदीप टोप्पो ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि मानव तस्कर गिरोह को संचालित करने वाले पन्नालाल के खिलाफ राज्य भर के कई थानों में कई मामले दर्ज हैं। पुलिस को लंबे समय से पन्नालाल महतो की तलाश थी। गुरुवार को गुप्त सूचना मिली की पन्नालाल खूंटी टोला में फिर से तस्कर करने संबंधित काम के सिलसिले में आया हुआ है, पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए एक टीम का गठन किया और उसकी गिरफ्तारी की गई।

कड़ी पूछताछ के बाद पन्नालाल को एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट खूंटी को सौंप दिया गया है, जहां महिला थाना प्रभारी मीरा सिंह समेत अन्य अधिकारियों द्वारा पन्नालाल से पूछताछ की जा रही है। पन्नालाल को गिरफ्तार करने के दौरान गठित टीम में मुख्यालय डीएसपी जयदीप लाकड़ा थाना प्रभारी खूंटी के जयदीप टोप्पो, खूंटी थाना के सब इंस्पेक्टर हसरत जमाल समेत अन्य जवानों के नाम शामिल है।

पन्नालाल की संपति की चल रही है जांच 

इधर इससे पहले पन्नालाल महतो की सम्पति जब्त करने की तैयारी में जुटी हुई थी। इसके लिए झारखण्ड पुलिस मुख्यालय ने पन्नालाल के खूंटी, रांची और दिल्ली में उनके अकूत सम्पति की और भी व्यापक जानकारी जुटाने में लगे हुए है। पुलिस मुख्यालय इन जानकारियों को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को उपलब्ध कराएंगी। इसके बाद उसकी सम्पति जब्त करने की कार्रवाई की जायेगी। 

कई मामले हैं दर्ज 

पन्नालाल पर खूंटी के एएचटीयू थाना सहित रांची के जगन्नाथपुर और दिल्ली के सुल्तानपुर थाना में कुल 10 मामले दर्ज है। खूंटी पुलिस ने 18 अक्टूबर 2015 को दिल्ली से पन्नालाल को गिरफ्तार किया था। पन्नालाल पर झारखण्ड और उड़ीसा की लड़कियों को मुम्बई, पंजाब, हरियाणा, गुड़गांव, फरीदाबाद, नोयडा, गाजियाबाद, चंडीगढ़, जयपुर, लखनऊ, कानपुर, पटना, बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद, गोवा एवं देश से बाहर घरेलू काम, बंधुआ मजदूरी, कारखाना में काम करने और वेश्यावृति के लिए बेचने का आरोप है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *