महागठबंधन के तीन प्रमुख घटक -झामुमो,कांग्रेस और विदेशी फंडों से चलने वाले कुछ NGO- भाजपा

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने आज गुमला में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि महागठबंधन को विदेशी फंडों से संचालित हो रहे कुछ NGO का साथ मिलने की सूचना मिल रही है।उन्होंने कहा कि 2 दिन पहले रांची में धर्म के नाम पर वोट मांग रही महिलाओं को पकड़ा गया। कोलेबिरा उपचुनाव में एक धर्म विशेष के धर्मगुरुओं के द्वारा एक राष्ट्रीय पार्टी के पक्ष में खुलकर प्रचार करना और तथाकथित समाजसेवी ज्यों द्रेज के द्वारा महागठबंधन की बैठक में शामिल होकर इनके नेताओं के साथ फोटो खींचाना इस बात का सबूत है विदेशी फंड से चलने वाले कुछ एनजीओ गठबंधन का साथ दे रहे हैं।प्रतुल ने कहा कि भाजपा को यह शिकायत मिली थी कि विदेशों से मिलने वाली सहायता राशि को कुछ NGO विपक्ष के उम्मीदवारों के चुनाव प्रचार में डाइवर्ट करने वाले है। इसको लेकर भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से शिकायत भी की थी। श्री देव ने आरोप लगाया कहा कि राज्य सरकार ने धर्मांतरण कानून को कड़ा किया है जिससे कुछ राष्ट्र विरोधी संस्थाएं बौखलाहट में है। उन्होंने कहा कि समाज सेवा की आड़ में धर्म परिवर्तन करने की इजाजत भारत का संविधान भी नहीं देता है।

प्रतुल ने कांग्रेस से जानना चाहा की अगर वो कार्तिक उरांव को अपना श्रधेय नेता मानती है तो उसे बताना चाहिए कि वह कार्तिक उरांव के उस विचारधारा से सहमत है कि नहीं कि जिसके अंतर्गत उन्होंने लोकसभा में एक विधेयक पेश करके अपना धर्म बदलने वाले आदिवासियों को आरक्षण की सुविधा से वंचित करने की बात कही थी।प्रतुल ने कहा कि कांग्रेस स्वर्गीय कार्तिक उरांव के नाम का प्रयोग अपने फायदे के लिए करती है लेकिन उनकी विचारधारा से कन्नी काटती है।

प्रतुल ने कहा नरेंद्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने की मुहिम में पूरा देश एकजुट है। और आगामी चुनाव में एनडीए गठबंधन भारी बहुमत से विजयी होगा।

आज की प्रेस वार्ता में जिला अध्यक्ष श्री सविंदर सिंह, जिला मीडिया प्रभारी श्री धर्मेंद्र तिवारी सहित अन्य नेता मौजूद थे

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *