मन की बात में बोले पीएम मोदी,कड़े फैसले लेने के लिए माफी मांगता हूँ

आज लॉकडाउन का पांचवा दिन है. लॉकडाउन के बाद उपजे हालात भी देश के लिए बड़ी समस्या बन चुकी है. रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से ‘मन की बात की. मन की बात कार्यक्रम में उन्होंने कहा है कि कोरोना महामारी से लड़ने के दौरान जो भी असुविधा हुई उसके लिए माफी मांगता हूं. कोरोना वायरस ने दुनिया को कैद कर दिया है. हर किसी को चुनौती दे रहा है. ये वायरस इंसान को खत्म करने पर उतारू है. इसलिए एकजुट होकर संकल्प लेना है, इसे हराना है.कहा कि अगर आप लॉकडाउन का नियम तोड़ेंगे तो बचना मुश्किल हो जाएगा. दुनिया में सभी सुख का साधन स्वास्थ्य है. इस लड़ाई के अनेकों योद्धा घरों में नहीं घरों के बाहर रहकर काम कर रहें हैं. वो योद्धा हैं. ऐसे साथी जो कोरोना को पराजित कर चुके हैं. वो हीरो हैं, योद्धा हैं. हमारी नर्स बहनें योद्धा हैं . प्रधानमंत्री कहा है कि कुछ लोगों को लगता है की वो लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं तो ऐसा करके वो मानो जैसे दूसरों की मदद कर रहे हैं, ये भ्रम पालना सही नहीं है. ये लॉकडाउन आपके खुद के बचने के लिए है. आपको अपने को बचाना है, अपने परिवार को बचाना है.मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हमारे जो फ्रंटलाइन सोल्जर हैं उनसे आज हमें प्रेरणा लेने की जरूरत है. पीएम ने कहा कि डॉक्टर, नर्स, मेडिकल स्टाफ से हमें सीखने की जरूरत है. पीएम ने कहा कि कोरोना को हराने वाले साथियों से हमें प्रेरणा लेने की जरूरत है.

जॉन्सहॉप्किन्स यूनिवर्सिटी के ताजा आंकडों के  अनुसार दुनिया भर में कोरोना वायरस संक्रमण के शिकार लोगों की संख्या छह लाख से ज्यादा हो गई है .इटली में मरने वालों की संख्या शनिवार को 10,000 के पार पहुंच गई है. इधर, पाकिस्तान में अब तक कोरोना वायरस के करीब 12 हजार संदिग्ध मामले सामने आए है. संक्रमण के मामले में अमेरिका (मौत-2000) ने चीन और इटली को पीछे छोड़ दिया है. भारत और अन्य देशों के हालात के 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *