भाजपा ने खूंटी के धार्मिक स्थलों के बाहर पर्वेक्षक तैनात करने की चुनाव आयोग से की मांग

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने खूंटी में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि भारत का संविधान और चुनाव आयोग के स्थापित मापदंड किसी भी धार्मिक स्थल से किसी विशेष राजनीतिक दल के लिए वोट मांगने की इजाजत नहीं देते। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास इस बात की पुख्ता सूचना है कि पिछले रविवार को भी खूंटी के अनेक धार्मिक स्थलों से एक दल विशेष के लिए वोट देने का फरमान जारी किया गया था। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को अभी भी सूचना मिल रही है कि आने वाले रविवार के दिन भी एक विशेष धर्म के धार्मिक स्थलों से एक विशेष राजनीतिक दलों को फिर से वोट देने का फतवा जारी किया जाएगा। उन्होंने कहा यह संविधान की भावना के बिल्कुल विपरीत होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा चुनाव आयोग से आग्रह करती है कि वह रविवार को सुबह इन धार्मिक स्थलों के परिसर के बाहर विशेष पर्यवेक्षक और कैमरामैन की नियुक्ति करें ताकि जैसे ही इस तरीके का कोई फरमान जारी किया जाए तो उसकी रिकॉर्डिंग हो जाए और फिर उस पर नियम सम्मत कार्रवाई हो।प्रतुल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने कोलेबिरा उपचुनाव में भी यह आशंका जताई थी कि एक धर्म विशेष के धर्मगुरु एक विशेष राजनीतिक दल के लिए वोट मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि खूंटी से चुनाव लड़ रहे एक बड़े राजनीतिक दल के उम्मीदवार ने अपने फ़ेसबुक पर 23 और 24 अप्रैल को एक विशेष धर्म के गुरु का पत्र को पोस्ट किया था। यह सब दिखाता है इस पूरे इलाके में राष्ट्र विरोधी शक्तियां धर्म के साथ राजनीति को मिलाकर वोट की सौदेबाजी कर रही हैं ।उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मांग करती है की चुनाव आयोग इस पूरे मसले पर कड़ी निगरानी रखे। शीघ्र ही भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल अपना मांग पत्र चुनाव आयोग को भी सौंपेंगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *