भाजपा के भीष्म पितामह थे कैलाशपति मिश्र : रघुवर दास

भाजपा के भीष्म पितामह व पूर्व राज्यपाल कैलाशपति मिश्र की पुण्यतिथि पर हरमू स्थित भाजपा प्रदेश कार्यालय में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने स्वर्गीय मिश्र को त्याग, तपस्या एवं संघर्ष की प्रतिमूर्ति बताते हुए उनके चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। मौके पर उन्होंने कहा कि उनकी संगठनात्मक क्षमता के बल पर ही भाजपा गांव-गांव और जन-जन तक पहुंच सकी। उन्होंने पं. कैलाशपति मिश्र की सांगठनिक कार्यकुशलता का जिक्र करते हुए कहा कि स्वर्गीय मिश्र के त्याग व तपस्या के बल पर ही झारखंड में भाजपा बट वृक्ष के समान फैला हुआ है। भारतीय जन संघ के साथ-साथ भारतीय जनता पार्टी में उनका योगदान अविस्मरणीय है। संघ के प्रचारक के रूप में भी उनका सराहनीय योगदान रहा।

मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री लक्ष्मण गिलुवा ने कहा कि भारतीय जनसंघ से लेकर भारतीय जनता पार्टी तक के सफर में वे पार्टी का नेतृत्व करते रहे, जब 1980 में भारतीय जनता पार्टी बनी तो वे प्रथम प्रदेश अध्यक्ष बने और लंबे समय तक पार्टी का नेतृत्व किए। उनके कुशल नेतृत्व में भाजपा देश एवं प्रदेश में एक बड़ी पार्टी बनकर उभरी।

मौके पर भाजपा संगठन महामंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि गुजरात एवं राजस्थान के राज्यपाल के रूप मे उनका योगदान आज भी लोगों की जुबान पर है। उन्होंने कहा कि एक कुशल संगठनकर्ता एवं आदर्श राजनीतिज्ञ के रूप में उनके योगदान अविस्मरणीय है, भाजपा को बुलंदियों तक पहुँचाने की उनकी करिश्माई क्षमता से कार्यकर्ताओं को सीख लेनी चाहिए।

प्रदेश कार्यालय में श्रद्धासुमन अर्पित वालों में प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ ,संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह, प्रदेश महामंत्री दीपक प्रकाश ,सांसद संजय सेठ, सुबोध सिंंह, कमाल खां, हेमन्त दास, श्री सतीश सिन्हा, प्रेम मित्तल, अजय राय,अमित सिंह, सोना खान। कुणाल, यादव,बरुण तिवारी, अजीत दुबे, सूरज चौरसिया, नीरज सिंह, राहुल पाण्डेय शामिल थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *