भाजपा का संकल्प पत्र जारी करते हुए बोले सीएम रघुवर,कहा-यह संकल्प पत्र एक पवित्र ग्रन्थ

झारखंड में भाजपा ने बुदवार को चुनावी घोषणा पत्र जारी किया है.मुख्य अतिथि केद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद,मुख्यमन्त्री रघुवर दास,झारखंड प्रभारी ओपी माथुर,राम विचार नेताम,केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा और अयोध्यानाथ मिश्रा ने संयुक्त रूप से संकल्प पत्र का लोकार्पण किया. झारखंड में भाजपा ने बुदवार को चुनावी घोषणा पत्र जारी किया है.मुख्य अतिथि केद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद,मुख्यमन्त्री रघुवर दास,झारखंड प्रभारी ओपी माथुर,राम विचार नेताम,केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा और अयोध्यानाथ मिश्रा ने संयुक्त रूप से संकल्प पत्र का लोकार्पण किया.

भाजपा ने अपने घोषणा पत्र को झारखंड की समृद्धि का संकल्प नाम दिया है. पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि घुसपैठ की समस्या रोकने के लिए राज्य में एनआरसी लागू करेंगे. मालूम हो कि असम में लागू किए गए एनआरसी को वहां की भाजपा सरकार ने ही विफल मान लिया है. असम सरकार के नंबर दो माने जाने वाले वित्तमंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा ने पिछले दिनों गृहमंत्री अमित शाह से असम एनआरसी को वापस लेने और राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले एनआरसी में खुद के राज्य को शामिल करने की मांग की थी.

भाजपा ने राज्य को नक्सल मुक्त बनाने का भी संकल्प लिया हैण् हाल में राज्य में तीन नक्सल हमले हुएए जिस पर भाजपा के तमाम बड़े नेताओं ने चिंता जतायी थीण् इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का भी चुनावी दौरे के दौरान बयान आया था.
कृषि आशीर्वाद योजना का विस्तार किया जाएगा और अधिक से अधिक किसानों को इसके दायरे में लाकर पांच हजार रुपये दिए जाएंगे.
झारखंड किसान विकास बोर्ड का गठन किया जाएगा और अगले साल तक कृषि विकास नीति तैयार की जाएगी.

मुख्यमंत्री दुग्ध धारा योजना तैयार की जाएगी और अनुदान पर मिनी दुग्ध टैंक प्रदान किया जाएगा.

सिंचाई के लिए झारखंड जल ग्रिड की स्थापना की जाएगी.

सस्ते ब्याज दर पर किसानों को तीन लाख रुपये तक का कर्ज दिया जाएगा.

जब झारखंड का गठन नहीं हुआ थाए जब आपके ससुर वनांचल भाजपा के सबसे कद्दावर नेता होते थेए आपके परिवार की जड़े भाजपा में रही हैंए लेकिन दुःख नहीं होता कि जिस पार्टी को तैयार करने और आगे बढाने में जिंदगी लगा दी उसे छोड़ कर जाना पड़ा.

क्या समरेश दा सेहत संबंधी समस्याओं के बावजूद आपके लिए प्रचार करेंगे.

अगर आप विधायक बनीं महिलाओं के लिए क्या करना चाहेंगी.

जनजातीय समाज

2022 तक 70 नए एकलव्य विद्यालय की स्थापना की जाएगी और पहाड़िया स्कूलों की संख्या दोगुणी की जाएगी.

जनजताीय बच्चों के लिए हर जिले में हॉस्टल की स्थापना होगी.

रघुनाथ मुर्मू आवासीय कौशल विद्यालय की स्थापना की जाएगी.

जनजातीय क्षेत्र में जनजातीय लोगों को 25 लाख तक के टेंडर में अर्हता के आधार पर आवश्यक छूट दिया जाएगा.

युवा वर्ग

हर बीपीएल परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार व स्वरोजगार से जोड़ा जाएगा.

कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से पांच सालों में 20 लाख रोजगार का सृजन करेंगे.

स्वरोजगार को बढावा देने के लिए 500 करोड़ रुपये का झारखंड स्टार्टअप प्रमोशन एवं

अंतरराष्ट्रीय पदक हासिल करने वालों को 60 साल की उम्र के बाद से पेंशन.

कायाकल्प फंड की शुरुआत की जाएगी.

हर जिले में मेगा कौशल केंद्र की स्थापना.

महिला एवं बाल विकास

महिलाओं के लिए उपयुक्त सरकारी नौकरी में 33 प्रतिशत का आरक्षण प्रदान करना.

बच्चियों को केजी से पीजी तक निःशुल्क शिक्षा प्रदान करना.

200 करोड़ के फंड से आंगनबाड़ी का नवीनीकरण मिशन शुरू किया जाएगा.

महिलाओं की मदद के लिए हर जिले में महिला संरक्षण केंद्र की स्थापना

एक लाख सखी मंडलों का गठन कर 10 लाख महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा

सहिया एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांगों की समीक्षा के लिए समिति गठन किया जाएगा जो तीन माह में रिपोर्ट देगी और उस पर कार्रवाई की जाएगी

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *