बंधु की गिरफ्तारी के खिलाफ झाविमो उतरा सड़क पर, फूंका मुख्यमंत्री का पुतला”

झाविमो महासचिव व राज्य के पूर्व मंत्री बंधु तिर्की को बिना वारेंट एसीबी के द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजने के खिलाफ झाविमो ने जयपाल सिंह स्टेडियम से अल्बर्ट एक्का चौक तक प्रतिरोध मार्च निकाल कर राज्य के मुख्यंत्री रघुवर दास का पुतला फूंका।

इससे पूर्व झाविमो, राँची महानगर के सैकड़ों कार्यकर्ता स्थानीय जयपाल सिंह स्टेडियम से झंडा-बैनर एवं हाथों में तख्तियां लेकर सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए जुलूस के रूप में अल्बर्ट एक्का चौक पहुँचे एवं बंधु तिर्की की गिरफ्तारी के खिलाफ घण्टों नारेबाजी कर रघुवर दास का पुतला जलाया एवं बंधु तिर्की की रिहाई की मांग की।
प्रतिरोध मार्च सह पुतला दहन का नेतृत्व महानगर अध्यक्ष सुनील गुप्ता ने किया।

मौके पर प्रतिरोध मार्च सह पुतला दहन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महानगर अध्यक्ष सुनील गुप्ता ने कहा कि रघुवर सरकार अपनी विफलताओं की हतासा में विपक्षी नेताओं को टारगेट कर रही है। एक राजनीतिक साजिश के तहत सत्तारूढ़ दल भाजपा विपक्षी नेताओं के खिलाफ षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने कहा कि श्री तिर्की को बगैर वारेंट के एसीबी द्वारा अनान-फानन में गिरफ्तार करना सरकार की ओर इशारा करती है।

महासचिव जितेंद्र वर्मा ने कहा कि सरकार झाविमो एवं बाबूलाल मरांडी की सक्रियता एवं लोकप्रियता से घबराकर कमजोर करने के लिए ऐसा षड्यंत्र रच रही है। जिस केश बंधु तिर्की की गिरफ्तारी हुई है, उस केश एसीबी के पास एक भी साक्ष्य नही है और नही उस केश के प्राथमिकी में श्री तिर्की का नाम दर्ज है। बगैर वारंट एक राज्य के पूर्व मंत्री की सरकार के इशारे पर गिरफ्तारी लोकतंत्र की हत्या है। उन्होंने कहा कि रघुवर दास की इन कुकृत्यों को राज्य की जनता चुनाव में जबाब देगी। उन्होंने कहा कि झाविमो द्वारा घोषित आगामी 25 सितम्बर को प्रभात तारा मैदान में ‘जनादेश समागम’ से घबरा गई है और उसे प्रभावित करने के लिए इस तरह का कुचक्र कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार केश एवं जेल के भय दिखाकर जनता की आवाज को नही दबा सकती। आने वाले दिनों इसका जबाब जनता देगी। उन्होंने बंधु तिर्की की अविलब रिहाई की मांग की।

प्रतिरोध मार्च सह पुतला दहन कार्यक्रम में मुख्य रूप से पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता सुनीता सिंह, युवा मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह, जितेंद्र वर्मा, सुचिता सिंह, बल्कु उराँव, मंतोष सिंह,शिव शंकर शर्मा, नजीबुल्लाह खान, शिवा कच्छप,राम मनोज साहू, अभिजीत दत्ता, सूरज टोप्पो, अनिता गाड़ी,शिव संकर साहू, सुरेश शर्मा, निर्मल पाहन,तन्नू आलम, मन्नू चौधरी,सोमित्रो भट्टाचार्य,राकेश सिंह, असरफ अंसारी, नेहा सिंह, बिनीता गुप्ता, अंजली कुमारी, गुडडू तिर्की, रुपाली घोष, अंजना कुमारी, भन्नु तिर्की, राजेश महतो, प्रवीण सुरीन, रूप राय,मनोज गुप्ता, बिजय मुंडा सहित सैकड़ों कार्यकर्ता सामील हुए एवं श्री तिर्की की गिरफ्तारी का विरोध किया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *