द्रौपदी मुर्मू को महामहिम बनाकर कलिंग विजय कार्ड खेल सकती है भाजपा!

-आदिवासी समुदाय को सर्वोच्च पद देकर मोदी खेल सकते हैं आदिवासी कार्ड
-राष्ट्रपति पद को लेकर भाजपा ने दिए नई राजनीति के संकेत

क्या झारखण्ड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को भारत का सर्वोच्च पद देकर भाजपा बड़ा आदिवासी कार्ड खेलने की तैयारी में है! ऐसे वक़्त तो यह सवाल और भी महत्वपूर्ण है जब ओडिशा में चुनाव होनेवाले हैं. इस वक़्त भाजपा ने कलिंग विजय की सारी तैयारी कर रखी है. भुवनेश्वर के सफल कार्यक्रम के बाद मोदी और शाह की जुगल जोड़ी कलिंग विजय की तैयारी में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है. इस आखिरी लम्हे में जब सर्वोच्च पद का चुनाव बेहद करीब है और बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे नेता इस रेस से दूर हो गये हैं, तो जानकार मानते हैं कि ऐसे वक़्त द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद के लिए नामित कर भाजपा एक तीर से दो शिकार कर सकती है.
सौम्य, मिलनसार और बेदाग छवि की राजनेत्री रहीं श्रीमती मुर्मू ओडिशा की हैं. इनका संसदीय जीवन लम्बा और बेदाग रहा है. इनके राष्ट्रपति बनने से ओडिशा के लोगों में बेहद सकारात्मक सन्देश जायेगा. दूसरा पक्ष यह है कि आदिवासी समुदाय से कोई पहली बार इस सर्वोच्च पद पर पहुंचेगा तो पार्टी पर लगा यह कलंक भी मिट जायेगा कि भाजपा अगड़ों की पार्टी है. इस कदम से झारखण्ड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ जैसे कई राज्यों में आदिवासी मतों का झुकाव भाजपा की और हो सकता है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *