झारखण्ड में दुष्कर्म की घटना के खिलाफ नारी शक्ति सेना ने निकाला विरोध मार्च

झारखण्ड में लगातार हो रहे महिलाओं पर अत्याचार और दुष्कर्म की घटना के खिलाफ बुधवार को नारी शक्ति सेना ने विरोध मार्चा निकाला. विरोध प्रदर्शन जुलूस दुर्गा मंदिर रोड से होते हुए कचहरी सहित चौक अल्बर्ट एक्का चौक  पर पहुंचा. नारी शक्ति सेना के अध्यक्ष सुचिता तिवारी कहा कि आज महिलाएं अपने आप में सुरक्षित महसूस नहीं कर रही हैं. घर से बाहर निकलने में हमेशा डर बना रहता है. आए दिन महिलाओं से छेड़छाड़ और दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ती जा रही है. नारी शक्ति सेना द्वारा इसपर राजपाल को लिखित आवेदन दिया जाएगा. महिलाओं ने कहा कि अन्य राज्यों की तरह महिलाओं की सुरक्षा के लिए कठोर एवं सख्त कानून बनाया जाए एवं जल्द से जल्द जघन्य अपराध की सजा मिलने का प्रावधान हो और घटनाओं पर पूर्ण विराम लगे. अगर सरकार महिलाओं की सुरक्षा करने में सक्षम नहीं है तो ऐलान कर दे कि हम ऐसी व्यवस्था से डर गए हैं. हमसे अब महिलाओं की सुरक्षा नहीं हो पाएगी. झारखंड जैसे समृद्ध राज्य में महिलाएं असुरक्षित महसूस कर रही हैं आए दिन बलात्कारियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है. सरकार की निष्क्रियता के कारण महिलाओं को अपनी सुरक्षा के लिए रोड पर उतरना होगा सभी महिलाएं एकजुट हो और अपने सुरक्षा और अधिकार के लिए सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाएं. इस पैदल मार्च में संरक्षक अरुण कुमार सिंह, संस्थापक सचिव राजेश प्रसाद, अध्यक्ष सुचिता तिवारी, प्रदेश सचिव राजीव रंजन मिश्रा, कोषाध्यक्ष मुस्कान कुमारी, जिला अध्यक्ष आशा भारती, जिला सचिव महानगर अध्यक्ष लीला साहू, जिला सचिव जय कुमार साह, प्रदेश मीडिया प्रभारी विक्रांत विश्वकर्मा, सुमति देवी, नीलम देवी, रीना देवी,  मुन्नू देवी, विना देवी, चंचला देवी, संगीता देवी, सुनीता चौधरी, सुमन मिश्रा, प्रीति कुमारी, रूपा वर्मा, नमिता तिर्की    उपस्थित थीं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *