झारखंड में भाजपा के कई सांसदों का कटेगा टिकट !

झारखंड में लोकसभा की सभी 14 सीटों को हासिल करने की योजना पर भाजपा ने अपनी रणनीति अख्तियार किया है. वैसे प्रत्याशियों को ही टिकट देगी जो जीत सके,साथ ही उनके परफोर्मेंस को भी आधार बनाकर टिकट देगी.लेकिन पार्टी सर्वे रिपोर्ट और परफोर्मेंस के अधर पर इसबार कई सांसदों का इसबार टिकट कटना तय माना जा रहा है.
भाजपा ने 2014 में लोकसभा चुनाव में 14 में से 12 सीटों पर अपना कब्ज़ा जमाया था.उस समय मोदी लहर भी एक फेक्टर माना जा रहा था. इसबार 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा ने एक सीट पहले ही अपने सहयोगी आजसू को दे दिया है.भाजपा 13 सीटों पर ही अपने प्रत्याशी उतारेगी.प्रदेश में चोथे चरण से सातवें चरण तक 14 लोकसभा सीटों के लिए वोट डाले जायेंगे.इसे लेकर राजनीती सरगर्मी तेज हो गई है.

इस बार धनबाद से पीएन सिंह,खूंटी से कडिया मुंडा,रांची से रामटहल चौधरी,चतरा से सुनील सिंह और कोडरमा से रविन्द्र राय का टिकट कटना तय माना जा रहा है.वहीँ सिंभुम से सांसद सह प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ,हजारीबाग से केन्द्रीय मंत्री जयंत सिन्हा,लोहरदगा से केन्द्रीय मंत्री सुदर्शन भगत,गोड्डा से निशिकांत दुबे,जमशेदपुर से विधुतवरन महतो और पलामू से बीडी राम को दुबारा टिकट मिल सकता है.

रांची लोकसभा क्षेत्र से नगर विकास मंत्री सीपी सिंह,बीसीसीई के संयुक्त सचिव अमिताभ चौधरी और रांची विवि के रजिस्टार अम्र कुमार चौधरी टिकट पाने की लिस्ट में हैं. इनमे से किसी एक को भाजपा रांची लोकसभा क्षेत्र से टिकट दे सकती है. वहीँ चतरा से सुनील सिंह की जगह पर रविन्द्र राय या प्रदीप वर्मा को प्रत्याशी बनाया जा सकता है,जबकि धनबाद से पीएन सिंह की जगह पर सरयू राय और विधायक राज सिन्हा के नाम की चर्चा चल रही है.खूंटी से भाजपा के कद्दावर नेता अर्जुन मुंडा को प्रत्याशी बनाये जाने की चर्चा काफी दिनों से चल रही है. वहीं गिरिडीह की सीट भाजपा द्वारा आजसू को दिए जाने से नाराज भाजपा सांसद रविन्द्र पाण्डेय अलग राह पकड़ सकते हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *