झारखंड में पीएम मोदी के योजनाओं के सहारे भाजपा चुनाव जीतने का करेगी दावा ?

प्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव की तिथि नजदीक आ रही है, केंद्र के बड़े नेताओं का दौरा एवं कई योजनाओं का शिलान्यास कार्यक्रम शुरू हो चुका है. कई अन्य दल सत्ता परिवर्तन को लेकर बदलाव यात्रा शुरू कर चुके हैं. महत्वपूर्ण विषय यह है कि जनता की क्या राय है ?क्या जनता मोदी के योजनाओं एवं अन्य कार्यक्रमों द्वारा झारखंड में एक बार फिर बीजेपी सरकार को बैठाने के लिए कमर कस चुकी है या फिर वर्तमान झारखंड सरकार की कार्यशैली से छुब्द्ध होकर बीजेपी सरकार को सबक सिखाएगी.

रघुवर दास के नेतृत्व वाली सरकार के कुछ अप्रिय फैसलों के चलते भी यहां जनता का बीजेपी से मोहभंग हुआ है।झारखंड विधानसभा चुनाव से पहले झामुमो के पक्ष में माहाैल बनाने के लिए प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन बदलाव यात्रा पर निकले हैं।झारखंड विधानसभा चुनाव से पहले चलेगा ‘दल बदल’ का खेल!सूत्रों का दावा है कि कांग्रेस के तीन विधायक पाला बदलने का मन बना चुके हैं। ऐसा हुआ तो विधानसभा चुनाव से पूर्व कांग्रेस को झारखंड में जोर का झटका लगेगा।
इधर मुख्यमंत्री भी चुनाव के मद्देनजर देख महिला कार्यकताओं से आह्वान किया कि वे झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए कमर कस लें। उन्होंने महिला शक्ति को पार्टी की नीतियों तथा केंद्र व राज्य सरकार की उपलब्धियों को हर घर तक पहुंचाने का टास्क दिया। कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान सभी कार्यकर्ता भ्रम फैलाने वालों से सतर्क रहें और उसका मुंहतोड़ जवाब दें।

राज्य में कांग्रेस और अन्य दलों का शासन रहा, लेकिन गरीबों के लिए किसी ने कोई काम नहीं किया। भाजपा की सरकार ने हर घर शौचालय का निर्माण करवाया। सरकार गरीबों को दो गैस सिलेंडर और चूल्हा दे रही है। इतना ही नहीं 50 लाख तक की संपत्ति की रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर महज एक रुपये में हो रही है।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 12 सितंबर को झारखंड की धरती रांची से किसानों को पेंशन योजना की ऑनलाइन शुरुआत करने जा रहे हैं इसका सीधा असर झारखंड विधानसभा चुनाव पर पड़ेगा.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *