झारखंड में जूनियर इंजीनियर के घर से दो करोड़ पैंतालीस लाख नगद बरामद

एक दिन पहले 10 हज़ार रूपये घूस लेते रंगे हाथ धराये ग्रामीण विकास विभाग के जूनियर इंजीनियर सुरेश प्रसाद वर्मा के घर की तलाशी के दौरान एसीबी की टीम ने दो करोड़ पैंतालीस लाख चौवालीस हज़ार नगद, काफी मात्रा में निवेश के कागजात और आभूषण बरामद किये। यह एसीबी और निगरानी ब्यूरो के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी बरामदगी बताई जा रही है।

सुरेश प्रसाद वर्मा सरायकेला के सिंचाई विभाग में कनीय अभियंता के पद पर पदस्थापित है। उसे एसीबी की टीम ने गुरुवार की देर रात घूस लेते जमशेदपुर के मानगो चौक से गिरफ्तार किया था।

गिरफ्तार इंजीनियर के घर से भारी धनराशि मिलने की गुप्त सुचना पर एसीबी जमशेदपुर की टीम ने डीएसपी अरविंद कुमार सिंह के नेतृत्व में जमशेदपुर मानगो के डिमना स्थित निवास में वर्मा के घर छापामारी की गयी। इस दौरान एसीबी की टीम को 64 हज़ार रूपये, निवेश के कागजात, और आभूषण मिले।

छापमारी के दौरान वर्मा के घर में दो कमरों में ताला लगा मिला। चाभी मांगने पर वर्मा ने बताया कि चाभी उनके पास नहीं है। बाद में उच्चाधिकारियों के निर्देश पर दंडाधिकारियों की उपस्थिति में वीडियोग्राफी कराते हुए दोनों कमरों को खोले जाने पर एसीबी टीम ने एसीबी और निगरानी की इतिहास की सबसे बड़ी बरामदगी की। दोनों कमरों की तलाशी के क्रम में एसीबी की टीम को 2.44 करोड़ नगद मिले। इतनी अधिक मात्रा में रुपये बरामद होने के कारण टीम को गिनती करने में काफी समय लग गया । टीम के कई सदस्यों को रुपये की गिनती के कार्य में लगाया गया था।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *