जलवायु के अनुकूल खेती से बदलेगी बिहार में खेती की सूरत : डॉ. प्रेम कुमार

बिहार के पूर्व कृषि मंत्री सह बिहार विधान सभा के याचिका समिति के सभापति डाॅ॰ प्रेम कुमार ने कहा कि अब समय आ गया है कि किसानों को बदलते मौसम के अनुरूप खेती के तौर तरीकों में परिवर्तन करना चाहिये। इससे किसानों को काफी लाभ होगा। यह बहुत ही खुशी की बात है कि बिहार के दूरदर्शी मुख्यमंत्री माननीय श्री नीतीश कुमार जी के नेतृृत्व में एन0डी0ए0 की सरकार द्वारा राज्य के सभी जिलों में जलवायु के अनुकूल कृषि कार्यक्रम चलाया जा रहा है। आने वाले समय में यह कार्यक्रम बिहार के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।

उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन एक विश्वव्यापी समस्या है। जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की अनियमितता सर्वविदित है। जलवायु परिवर्तन का असर पिछले कुछ वर्षो में स्पष्ट रूप से दृष्टिगोचर भी होने लगा है। वर्षापात में कमी आयी है तथा माॅनसून का व्यवहार अत्यंत ही असामान्य हो गया है, जिससे फसल उत्पादन प्रभावित हो रहा है। साथ ही, किसानों को आर्थिक नुकसान भी हो रहा है। 

डाॅ॰ कुमार ने कहा कि पूरे सुबे में जलवायु के अनुकूल कृषि कार्यक्रम लागू होने से न केवल जलवायु परिवर्तन के प्रति खेती को ढ़ालने, बल्कि यह किसानों की आमदनी बढ़ाने में लाभदायक सिद्ध होगा। उन्होने राज्य के किसानों से अपील करते हुये कहा कि सरकार द्वारा चलाये जा रहे इस अतिमहत्वाकांक्षी योजना से जुडकर अपने खेती में इसे जरूर आजमायें यह निश्चित रूप से आपके लिये लाभकारी सिद्व होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *