कांग्रेस के वंशवाद पर मोदी का सर्जिकल स्ट्राइक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा है कि कांग्रेस वंशवाद का बढ़ावा देती है. इससे सबसे अधिक नुकसान संस्थाओं को हुआ है. उन्होंने कहा, ”प्रेस से पार्लियामेंट तक. सोल्जर्स से लेकर फ्री स्पीच तक. कॉन्स्टिट्यूशन से लेकर कोर्ट तक. संस्थाओं को अपमानित करना कांग्रेस का तरीका रहा है. उनकी सोच यही है कि सब गलत हैं, और सिर्फ कांग्रेस सही है. यानि ‘खाता न बही, जो कांग्रेस कहे, वही सही’.”
प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनाव को याद करते हुए कहा कि इस चुनाव में जनता ने परिवारतंत्र को नहीं, लोकतंत्र को चुना. विनाश को नहीं, विकास को चुना. शिथिलता को नहीं, सुरक्षा को चुना. अवरोध को नहीं, अवसर को प्राथमिकता दी. वोट बैंक की राजनीति के ऊपर विकास की राजनीति को रखा. उन्होंने कहा, ” साल 2014 का जनादेश ऐतिहासिक था. भारत के इतिहास में पहली बार किसी गैर वंशवादी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिला था.”
उन्होंने कहा कि जब भी आप वोट देने जाएं, अतीत को एक बार जरूर याद करें कि किस प्रकार एक परिवार की सत्ता की लालसा के चलते देश ने भारी कीमत चुकाई. जब उन्होंने हमेशा ही देश को दांव पर लगाया है तो यह तय है कि अब भी वे ऐसा ही करेंगे.

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के दृढ़संकल्प का ही नतीजा है कि आज भारत ने सेनिटेशन कवरेज में अभूतपूर्व सफलता हासिल की है. 2014 में जहां स्वच्छता का दायरा महज 38% था, वो आज बढ़कर 98% हो गया है. हमारी सरकार के प्रयासों से ही हर गरीब का आज बैंक में खाता है. जरूरतमंदों को बिना बैंक गारंटी के लोन मिले हैं. भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया गया है. बेघरों को घर उपलब्ध कराए गए हैं. गरीबों को मुफ्त चिकित्सा की सुविधा मिली है और युवाओं को बेहतर शिक्षा और रोजगार के अवसर मिले हैं.
आज हर क्षेत्र में हुए इस बुनियादी परिवर्तन का अर्थ यह है कि देश में एक ऐसी सरकार है, जिसके लिए देश की संस्थाएं सर्वोपरि हैं. भारत ने देखा है कि जब भी वंशवादी राजनीति हावी हुई तो उसने देश की संस्थाओं को कमजोर करने का काम किया.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *