एनडीए के राधा मोहन सिंह को हराना मेरे लिए कोई बड़ी चुनौती नहीं : आकाश सिंह

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह के सुपुत्र आकाश सिंह को पूर्वी चंपारण से प्रत्याशी बनाए जाने के बाद राजनीतिक सरगर्मी तेज है. रालोसपा में जिस लोकसभा से वह चुनावी मैदान में है वहां पहले माधव आनंद की चर्चा जोरों पर थी. मगर रालोसपा की ओर से आकाश सिंह को प्रत्याशी बनाया गया. इसके बाद गुरुवार को वह पार्टी कार्यालय पहुंचे और अपनी आगामी रणनीति को साझा किया.’ उन्होंने कहा कि मैं एक युवा प्रत्याशी हूं और युवाओं से देश और राज्य को काफी उम्मीद होती है’ मैंने पूर्वी चंपारण में काफी काम किया है. काफी समय से मैं वहां के लोगों से मिलता रहा हूं’. जनता के हर नब्ज को समझता हूं. मेरे सामने एनडीए की ओर से राधा मोहन सिंह खड़े हैं. उन्हें हराना मेरे लिए कोई बहुत बड़ी चुनौती नहीं है. क्योंकि जनता के बीच उनको लेकर काफी असंतोष है. उन्होंने जनहित में कोई ऐसा काम नहीं किया है कि इस बार दोबारा उन्हें जनता मौका दें’.मेरा दावा है कि मैं 3 लाख  वोटों से ऊपर के अंतर से उन्हें हरा दूंगा’ पत्रकारों ने जब उनसे यह सवाल पूछा कि आप कांग्रेस से रालोसपा में क्यों आए तब उन्होंने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा ने शिक्षा के क्षेत्र में काफी अच्छा काम किया है. वह मेरे पिता के बहुत अच्छे मित्र हैं. मैं उनसे प्रभावित होकर इस पार्टी में आया हूं. आगे जब उनसे पूछा गया कि आपने पार्टी कब ज्वाइन की, इसका उन्होंने कोई स्पष्ट उत्तर न दिया और बात को टालने की कोशिश की’.उन्होंने आगे कहा कि मेरे पिता कांग्रेस में हैं और मैं चाहता तो कांग्रेस ज्वाइन कर सकता था. मगर रालोसपा में आने का एक खास मकसद है. जनता की सेवा करना और उपेंद्र कुशवाहा के विचारों को आगे बढ़ाना.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *