अहमद पटेल के निधन पर झारखण्ड कांग्रेस कार्यालय में शोक सभा का आयोजन

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के तत्वावधान में अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल का आकस्मिक निधन पर बुधवार को कांग्रेस भवन में शोकसभा का आयोजन किया गया। शोकसभा को प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश ने की। शोक व्यक्त करने वालों कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, विधायक प्रदीप यादव, पूर्व विधायक डाॅ जयप्रकाश गुप्ता, कांग्रेस प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद, शमशेर आलम, आलोक कुमार दूबे, लाल किशोर नाथ शाहदेव, डाॅ राजेश गुप्ता, डाॅ एम तौसीफ, अमूल्य नीरज खलखो एवं संजय पांडेय मुख्य रूप शामिल थे।

अहमद पटेल के आकस्मिक निधन पर झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष सह मंत्री डाॅ0 रामेश्वर उरांव ने गहरा शोक संवेदन व्यक्त करते हुए कहा कि अहमद पटेल के निधन की खबर सुनकर कांग्रेसजन एवं देशवासियों के अंदर मायूसी की लहर है। अहमद पटेल पिछले पांच दशक से कांग्रेस पार्टी में अभिभावक का रोल अदा करते आ रहे थे, जब भी कांग्रेस पार्टी संकट से गुजरती तो पार्टी को संकट से निकालने में हमेशा अहम रोल अदा किया करते थे। कांग्रेस का उन्हें संकटमोचक भी कहा जाता था, अहमद पटेल मधुरभाषी, सरल स्वभाव एवं लो प्रोफाइल के लिए जाने जाते थे।

कांग्रेस विधायक दल के नेता सह मंत्री आलमगीर आलम ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि अहमद पटेल कांग्रेस पार्टी का सबसे मजबूत स्तम्भ थे। आज उनका अचानक चले जाना कांग्रेस पार्टी के साथ-साथ देश की राजनीति में एक अपूरणीय क्षति है। अहमद पटेल गांधी परिवार के बहुत ही नजदीक थे। कांग्रेस में हर बड़े फैसले में उनकी राय अहम मानी जाती थी, जब कभी कार्यकर्ता एवं नेता चाहे जितना भी नाराज हो, उनसे मिलने के बाद संतुष्ट हो जाते, उनका व्यवहार और उनका प्यार नेता एवं कार्यकर्ता को मोहित कर लेता था। पार्टी के प्रति उन्होंने अपने जीवन को समर्पित कर दिया। उनके निधन से कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता एवं नेता उनके योगदान को हमेशा याद रखेगा।

शोकसभा में कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि अहमद पटेल की कमी कांग्रेस पार्टी को हमेशा खलेगी, वो पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते और उन्हें पार्टी को मजबूत करने के लिए हमेशा प्रेरित करते थे, यही वजह है कि कांग्रेस पार्टी एक-एक कार्यकर्ता उनके निधन पर मर्माहत हैं।

शोक व्यक्त करने वालों में विनय सिन्हा दीपू, सलीम खान, सुनिल सिंह, अमिताभ रंजन, शकील अख्तर अंसारी, नेली नाथन, वारिश कुरैशी, अरूण श्रीवास्तव, राजम वर्मा, नीरज भोक्ता, भानू प्रताप बडाईक, छोटू सिंह, प्रभात कुमार, दिनेश लाल सिन्हा, इम्तियाज अली, फिरोज रिजवी, देवजीत देवघरिया, कंचन सिंह, नरेन्द्र कुमार गोपी, राजू राम, मोजीबुला अंसारी, शिवम तिवारी, अजय सिंह, उमर खान, विकास सिंह, फिरोज आलम, रामानंद केशरी आदि शामिल थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *