अपनों के खेल में फंस चुके हैं लालू!

-नीतीश कुमार पर साजिश रचने का आरोप

-तेजस्वी को सीएम प्रपोज करने का दांव पड़ा भारी

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद चारों तरफ से घिर गये हैं. एक तो सुशील मोदी के लगातार लगाये जा रहे भ्रष्टाचार के आरोपों से उनकी स्थिति ख़राब हुई. फिर एक चेनल ने लालू और बाहुबली शहाबुद्दीन के टेप सार्वजानिक कर दिए. अब जानकारों को तो ये पता है कि इस तरह की फ़ोन टेपिंग या तो स्पेशल ब्रांच करता है या फिर आईबी की टीम करती है. दोनों ही हालत में ये टेप जान बुझकर लीक कराए गये हैं. केंद्र के इशारे पर हुआ है यह खेल या नीतीश कुमार के कहने पर यह तो विस्तृत जाँच के बाद ही पता चलेगा. लेकिन राजद से जुड़े लोग इसमें सुशासन बाबू की भूमिका देख रहे हैं.
दरअसल लगातार भाजपा नेता सुशील मोदी लालू प्रसाद, तेज़प्रताप तथा उनके अन्य परिजनों पर भ्रष्ट तरीकों से आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का गंभीर आरोप लगा रहे हैं. गठबंधन धर्म का पालन करते हुए नीतीश कुमार को लालू प्रसाद का साथ देना चाहिए था. लेकिन नीतीश लगातार खामोश रहे. कई दिनों बाद जदयू के प्रवक्ता हालांकि लालू के समर्थन में बोले, लेकिन तब तक काफी राजनीतिक नुकसान हो चुका. गठबंधन की दरार साफ साफ दिखने लगी है.
कुछ राजनीतिक जानकार यह मान रहे हैं कि नीतीश खामोश रहकर यह सन्देश देना चाहते हैं कि वो गलत का साथ नहीं देंगे. लेकिन लालू के साथ की वजह से ही तो बिहार सरकार चल रही है. कहीं ऐसा ना हो कि सरकार भी गिर जाये और पिछड़ा राजनीति के दोनों धुरंधर भी.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *